मुंबई में BMC ने कंगना का दफ्तर तोड़ा, इधर, शिमला में प्रियंका गांधी का घर तोड़ने की उठी मांग

शिमला. हिमाचल की बेटी और बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranuat) और महाराष्ट्र सरकार में शामिल शिवसेना (Shiv Sena) नेता संजय राउत के साथ जुबानी जंग के बीच मुंबई में बीएमसी (BMC Mumbai) ने कंगना के दफ्तर के एक हिस्से को तोड़ दिया है. बीएमसी ने मंगलवार को अवैध निर्माण का नोटिस भेजा था. इसके बाद बुधवार की सुबह बीएमसी की टीम कंगना के मुंबई (Mumbai) पहुंचने से पहले ही उनके दफ्तर पहुंच गई और वहां तोड़फोड़ की कार्रवाई शुरू कर दी गई.

कंगना रनौत के मुंबई ऑफिस में तोड़फोड़ के विरोध में टि्वटर पर लोगों ने हिमाचल के शिमला में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi House in Shimla) के घर को गिराने की मांग कर डाली है. एक यूजर ने ट्वीट कर कहा कि शिमला में कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी का घर भी अवैध है, इसे भी तोड़ दिया जाए. इस पोस्ट पर यूजर ने सीएम जयराम ठाकुर को भी टैग किया है. वहीं, एक अन्य यूजर ने लिखा कि शिमला में प्रियंका गांधी ने शानदार घर बनाया है, लेकिन मुझे नहीं मालूम उन्हें यहां जमीन कैसे मिली है.वहीं, एक महिला यूजर ने लिखा,“हिमाचल सरकार को भी शिमला में प्रियंका गांधी के घर को तोड़ देना चाहिए.”

करीब साढ़े चार बीघा जमीन पर प्रियंका का घर साल 2008 में बनना शुरू हुआ था. हिमाचल कांग्रेस के नेता केहर सिंह खाची के नाम पर जमीन की पावर ऑफ अटॉर्नी है. साल 2011 में दो मंजिला बनने के बाद डिजाइन पसंद न आने पर इसे तोड़ दिया गया था. प्रियंका को मकान बनाने के लिए तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने लैंड रिफॉर्म्स एक्ट के सेक्शन 118 में नियमों में ढील दी थी. इस सेक्शन के तहत हिमाचल से बाहर रहने वाले लोग जमीन नहीं खरीद सकते हैं. वर्ष 2007 में इस जमीन की मार्केट वेल्यू करीब एक करोड़ रुपए बीघा थी, जबकि प्रियंका गांधी को मकान बनाने के लिए 4 बीघा जमीन 47 लाख रुपए में दी गई. मकान को लेकर प्रियंका को हाईकोर्ट से नोटिस भी मिला था. बता दें कि अक्सर प्रियंका यहां आती रहती हैं.

प्रियंका गांधी का घर शिमला से 13 किलोमीटर दूर और समुद्र तल से 8 हजार फीट की ऊंचाई पर है. घर को पहाड़ी शैली में बनाया गया है. इंटीरियर में देवदार की लकड़ी से सजावट की गई है. मकान के चारों तरफ हरियाली और पाइन के खूबसूरत पेड़ हैं. सामने हिमालय के बर्फ से ढके पहाड़ नजर आते हैं. छराबड़ा एक टूरिस्ट प्लेस है.

प्रियंका के घर पर स्लेट मंडी का ही लगा है. इससे पहले, शैली पसंद न आने पर निर्माणाधीन मकान को तुड़वाया भी गया था. जंजैहली घाटी के मुरहाग निवासी ठेकेदार प्यारे राम ने प्रियंका के मकान के निर्माण का ठेका लिया. था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *